आईआईटी आइएसएम 43वां दीक्षांत समारोह में पँहुचे उपराष्ट्रपति,39 गोल्डमेडलिस्ट छात्र छात्राओं को किया सम्मानित।

प्रभात कुमार पांडेय की रिपोर्ट।

धनबाद (झारखंड)आईआईटी आइएसएम के 43वां दीक्षांत समारोह में उपराष्ट्रपति जगदीप धनकड़ पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत किये।उपराष्ट्रपति के साथ राज्यपाल सीपी राधा कृष्णन, स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता भी शामिल हुए। वहीं उपराष्ट्रपति के आगमन को लेकर जिला प्रशासन द्वारा बरवाअड्डा हवाईअड्डा से पूरे आइएसएम केम्पस कार्यक्रम स्थल तक जगह जगह पुलिस बल,मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की गई थी।आईआईटी आईएसएम में 43वा दीक्षांत समारोह में 39 गोल्डमेडलिस्ट छात्र छात्राओं को उपराष्ट्रपति ने गोल्ड मेडल देकर सम्मानित किया।वही पश्चिम बंगाल के गोल्डमेडलिस्ट छात्रों को सम्मानित करते हुए नमोस्कार कहे।संस्थान ने उपराष्ट्रपति, राज्यपाल और स्वास्थ्य मंत्री को मेमोंटो देकर सम्मानित किया।


समारोह को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि आईआईटी आईएसएम धनबाद ही केवल नाम नही है बल्कि देश विश्व में इसका नाम आता है।यहां स्टूडेंट्स बड़े बड़े अधिकारी के पद पर है।

आईटी सेक्टर के मामले में हमारा देश अन्य देशों से कम नहीं है।मोबाइल दुनिया के मामले में आज हम आगे हैं।ये सब आईआईटी का देन है।उपराष्ट्रपति इशारों इशारों में कॉग्रेस राज्यसभा सांसद धीरज साहू के यहाँ आईटी छापा में करोड़ो रूपये मिलने पर कहा कि जो नोट गिनने की मशीन बनाई गई है वो भी ऐसे ही इंजीनियर का कमाल है नोट खत्म नहीं हो रहा है मशीन खराब हो जा रही है। वहीं स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि झारखंड सरकार के प्रतिनिधि के रूप में आइएसएम दीक्षांत समारोह में शिरकत किये है।मुख्यमंत्री के तरफ से उपराष्ट्रपति को संदेश देते हुए जोहार कहा।उपराष्ट्रपति के साथ मंच साझा करना गौरव का अनुभव हुआ।उपराष्ट्रपति बहुत विद्वान,देशभक्त है।यह दीक्षांत समारोह राज्य देश के लिये मिल का पत्थर साबित होगा।सभी छात्र छात्राओं को उज्जवल भविष्य की कामना करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here